मशहूर इस्लामिक धर्मगुरु तारिक रमादान पर एक महिला ने गैंगरेप करने का आरोप लगाया है। तारिक रमादान पर इस महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने का मुकदमा बीते रविवार (25 अगस्त, 2019) को दर्ज किया गया है। यह खबर ARAB NEWS’ ने French judicial के सूत्रों के हवाले से दी है। फ्रांसीसी मीडिया ‘Europe 1 radio’ और ‘Le Journal du Dimanche’ अखबार ने भी इस खबर की पुष्टि की है।

खबरों के मुताबिक 50 साल की इस महिला ने आरोप लगाया है कि जब वो अपने एक स्टाफ के साथ मई 2014 में 56 साल के तारिक रमादान का साक्षात्कार लेने लियॉन स्थित एक होटल में गई थी तब उनके साथ इस वारदात को अंजाम दिया गया। रमादान के खिलाफ आपराधिक मुकदमा दर्ज कराने वाली पीड़ित महिला ने अपनी शिकायत में कहा है कि रमादान और उसके एक सहयोगी ने उनके साथ कई बार होटल में रेप किया।

पीड़ित महिला ने अपनी शिकायत में कहा है कि जब उन्होंने इस मामले में पुलिस से शिकायत करने की बात कही थी तब रमादान ने उनसे कहा था कि ‘तुम जानती नहीं मैं कितना पावरफुल हूं।’ पीड़ित महिला के मुताबिक रमादान ने जनवरी के महीने में मैसेंजर ऐप के जरिए उनसे संपर्क किया था। बता दें कि उस वक्त रेप के एक अन्य मामले में जेल से छूट कर आए रमादान को सिर्फ 2 महीने हुए थे।

इस्लामिक धर्मगुरु रमादान पर रेप का यह पहला मामला नही है, यह आदतन यौन अपराधी है। रमादान ने साल 2009 में एक दिव्यांग महिला और साल 2012 में एक अन्य महिला के साथ बलात्कार किया था। साल 2018 में रमादान को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया था जहाँ 9 महीने तक बेल नहीं मिलने की वजह से वो जेल में रहा।

बता दें, रमादान पहले Oxford University के प्रोफेसर था। लेकिन साल 2017 में #MeToo के तहत जब उसपर दुष्कर्म के आरोप लगे थे तब उसे यूनिवर्सिटी से निकाल दिया गया था। सिर्फ फ्रांस में ही नही स्विट्जरलैंड में भी रमादान पर रेप का एक केस दर्ज है जिसकी जांच की जा रही है।