दिल्ली के मोती नगर इलाके में बेटी पर फब्तियां कसने का विरोध करने पर मुस्लिम युवकों द्वारा पिता और भाई पर चाकू से जानलेवा हमला करने का मामला सामने आया है। हमले में पिता की मृत्यु हो गई है, जबकि भाई अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहा है। पुलिस ने केस दर्ज कर दो नाबालिग सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है।

दरअसल, रविवार की रात (12 मई) दिल्ली के मोती नगर के बसई दारापुर निवासी राजू त्यागी के बेटी की अचानक तबियत बिगड़ गई, तो वह उसे तुरंत अस्पताल ले गये। उपचार के बाद जब वे वापस लौट रहे थे, तो पड़ोस के मोहम्मद आलम और जहांगीर खान ने राजू की बेटी पर अश्लील टिप्पणियां करनी शुरू कर दीं। चूंकि, राजू त्यागी अपनी बेटी के साथ थे, तो वे उसे घर पहुंचाकर उन लड़कों को समझाने आए और उनके हरकतों का विरोध करने लगे।

इतने में उन मनचलों ने राजू त्यागी पर चाकू से तेज वार कर दिया। चीख पुकार सुन जब लड़की का भाई अनमोल और लड़की घटनास्थल पर पहुंचे और अपने पिता का बचाव करने लगे तो दरिंदों ने अनमोल पर भी हमला कर दिया और फरार हो गए। खबरों के मुताबिक, अस्पताल ले जाने पर राजू त्यागी की मौत हो गई, जबकि अनमोल गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती है। पुलिस के अनुसार, आरोपियों को गिरफ्तार करके मामला दर्ज कर लिया गया है और छानबीन जारी है।

पीड़िता के चाचा ने बताया, “जब उनके भाई अपनी बेटी के साथ घर की तरफ लौट रहे थे, तो 4-5 व्यक्तियों ने रास्ते को रोक रखा था। जब उन्होंने विरोध किया तो वे तो उन पर भद्दी टिप्पणियों का प्रयोग करने लगे। लड़की को घर छोड़ने के बाद जब मेरे भाई उनके पास पहुंचे तो उन्होंने चाकू से हमला कर दिया। इस हमले में आरोपियों के परिवार वालों ने भी उनका साथ दिया है।”

पीड़ित के घरवालों ने बताया कि वारदात के समय कई पड़ोसी घटनास्थल पर मौजूद थे, लेकिन किसी ने भी बीच-बचाव की कोशिश नहीं की। इस वक्त परिजनों का रो-रोकर काफी बुरा हाल है। उनको इस बात पर विश्वास नहीं हो रहा कि बातों ही बातों में इतनी बड़ी वारदात हो गई। दरअसल, मामला मुस्लिमो से जुड़ा होने की वजह से किसी की हिम्मत नही पड़ी कि वह बीच बचाव कर सके। दो अलग अलग समुदायों से जुड़े होने के कारण यह मामला और भी संजीदा हो गया है तथा इलाके में स्थिति तनावपूर्ण हो गई है। स्थिति को देखते हुए पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है।

1 COMMENT

Leave a Reply