छत्‍तीसगढ़ में देरी से एयरपोर्ट पहुंचे कांग्रेस विधायक की फ्लाइट छूट गई। नेताजी को यह बात इतनी नागवार गुजरी कि उन्‍होंने वहां एयर इंडिया की मौजूद महिला कर्मचारी को ही गालियां देने और अभद्रता करने लगे। अब इस पूरी घटना को एयर इंडिया ने संज्ञान में लिया है। एअर इंडिया ने कहा है कि उसने छत्तीसगढ़ के कांग्रेस विधायक द्वारा रायपुर हवाईअड्डे पर महिला कर्मी के साथ कथित बदसलूकी किए जाने को गंभीरता से लेते हुए विस्तृत जांच के आदेश दिए हैं।

आरोप है कि महासमुंद से कांग्रेस विधायक विनोद सेवन लाल चंद्राकर सात सितंबर की शाम देरी से पहुंचे जिससे उनकी उड़ान छूट गई। इससे नाराज चंद्रकार ने एअर इंडिया की सहयोगी अलायंस एअर की महिला कर्मी को गालिया देना और बदसूलकी करना शुरू कर दिया। सूत्रों ने बताया कि चंद्राकर को अलायंस एअर की उड़ान संख्या 91-728 से रायपुर से रांची जाना था, लेकिन देर से आने पर महिला कर्मी ने उन्हें विमान में सवार होने से रोक दिया।

इसके बाद विमान के रवाना होने के बाद विधायक ‘चेक इन’ क्षेत्र में आए और ऊंची आवाज में जोर-जोर से महिला कर्मी के लिए गालिया देने लगे। हालांकि चंद्राकर ने आरोपों को खारिज किया है। उन्होंने एअर इंडिया को आरोप साबित करने की चुनौती दी।

चंद्राकर ने दूरभाष पर बातचीत के दौरान कहा, ”मैं इस घटना में शिकायतकर्ता हूं। पीड़ित को ही आरोपी बनाया जा रहा है। एअर इंडिया के कर्मचारियों ने मेरे साथ दुर्व्यवहार किया और अब वे मुझे आरोपी बनाकर खुद को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे सीसीटीवी फुटेज की जांच कर सकते हैं कि किसने गलत व्यवहार किया है। चंद्राकर ने कहा कि वह इस मामले में मानहानि का मुकदमा दायर करेंगे।

वहीं, इस मामले पर एयर इंडिया के प्रवक्ता धनंजय कुमार ने कहा- मामला हमारे संज्ञान में आया है। एयर इंडिया प्रबंधन ने मामले को गंभीरता से लेते हुए विस्तृत जांच के आदेश दिए हैं। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।