श्रीलंका से एक बेहद हैरान कर देने वाली खबर है, यहाँ एक मुस्लिम डॉक्टर को गिरफ़्तार किया गया है जिस पर 8 हजार महिलाओ की अवैध तरीके से नसबंदी करने का आरोप लगा है। श्रीलंकाई मीडिया के अनुसार आरोपी डॉक्टर का नाम मोहम्मद सियाब्दीन शफी है जिसे कुरुनेगला टीचिंग हॉस्पिटल से पुलिस ने बीती 24 मई को गिरफ्तार किया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मोहम्मद शफी पर 8 हजार सिजेरियन ऑपरेशन किये जाने की बात सामने आई है। इन्ही ऑपरेशन के दौरान वह महिलाओ का अवैध रूप से नसबंदी कर दिया करता था। श्री लंका के स्वास्थ्य मंत्री रंजीता सेनारत्ने ने कहा ने विशेषज्ञों की एक कमिटी बनाई है, जो इस मामले की जाँच कर रही है। मंत्री ने कहा कि दोषी साबित होने पर उक्त डॉक्टर के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

श्रीलंका सरकार ने कुरुनेगला अस्पताल में एक अलग दफ्तर स्थापित किया है, ताकि वहाँ पीड़ित महिलाएँ जाकर शिकायत दर्ज करा सकें ताकि डॉक्टर मोहम्मद शफी के खिलाफ अधिक से अधिक साक्ष्य जुटाए जा सकें और पीड़ितों की संख्या का सही अंदाज़ा लगे। अब तक ताज़ा सूचना के अनुसार उसके ख़िलाफ़ कुल 51 शिकायतें दर्ज की जा चुकी हैं।

एक महिला ने अपनी शिकायत में कहा है कि सिजेरियन सर्जरी के दौरान डॉक्टर मोहम्मद शफी ने उसकी बच्चेदानी निकाल दी जिसका पता उसे बाद में चला, उसने सरकार से डॉक्टर के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। बहरहाल डॉक्टर के खिलाफ सिर्फ अवैध तरीके से नसबंदी करने के ही आरोप नही है बल्कि उसके द्वारा वित्तीय अनियमितता की बातें भी सामने आईं हैं। उसने अवैध तरीके से अकूत संपत्ति का भी मामला है।

श्रीलंकाई मीडिया के अनुसार, आरोपी डॉक्टर के ख़िलाफ़ कई अन्य चौंकाने वाली शिकायतें भी दर्ज की गई है। वह नवजात बच्चे को किसी तीसरे को दे देता था। इसके लिए वह काग़ज़ातों से छेड़छाड़ किया करता था और दस्तावेजों को बदल देता था।

बहरहाल, एक डॉक्टर के ऊपर सभी लोग विश्वास करते है, उसे भगवान का रूप समझते है। ऐसे में जब डॉक्टर ऐसे कुकृत्य करते है तो वह सिर्फ अपने पेशे को ही कलंकित नही करते बल्कि जनता में अविश्वास की स्थिति हो जाती है। ऐसे स्थिति में किसी मुस्लिम डॉक्टर के पास जाने में मरीज हजार बार सोचेगा।

1 COMMENT

  1. […] जब हाल ही में एक मुस्लिम डॉक्टर ने 8000 बौद्ध महिलाओं की अवैध नसबंदी कर दी। सिर्फ इतना ही नहीं, वहां के कुछ […]

Leave a Reply