पूर्व पाक क्रिकेटर मोइन खान का बेतुका बयान, मुस्लिम होने के कारण मोहम्मद शमी को BJP ने किया टीम से बाहर

- Advertisement -

पाकिस्तान की क्रिकेट टीम के वर्ल्ड कप से बाहर होने बाद सारे पाकिस्तानी बुरी तरह से खिसियाये गए है और बौखलाहट में उनके पूर्व खिलाड़ियों और क्रिकेट एक्सपर्ट्स बदजुबानी करने से बाज नही आ रहे है। सबसे पहले अब्दुल रज्जाक ने इंग्लैंड से भारतीय टीम की हार को धार्मिक रंग दिया था और यह कहा था कि मोहम्मद शमी मुस्लिम है इसलिए उसे 5 विकेट मिला।

अब पूर्व पाक क्रिकेटर मोइन खान (Moin Khan) ने एक शर्मनाक बयान दिया है, जिसका ना कोई सिर है ना ही पैर। रविवार (जुलाई 7, 2019) को एक न्यूज चैनल के स्पोर्ट्स शो को दिए इंटरव्यू में भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद शमी के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाया। मोइन ने कहा कि श्री लंका के खिलाफ मुकाबले में मोहम्मद शमी के साथ भेदभाव किया गया और मुस्लिम होने की वजह से उन्हें जान बूझकर प्लेइंग इलेवन से बाहर किया गया।

- Advertisement -

जैसा कि सभी को पता है कि इस टूर्नामेंट में पाकिस्तानी टीम का प्रदर्शन बेहद ही निराशाजनक रहा। जिसकी वजह से वो अंतिम 4 में भी जगह नहीं बना पाई। अंतिम चार में जगह बनाने की जो रही-सही उम्मीदे थी वह भारत-इंग्लैंड मुकाबले में इंग्लैंड के जितने से टूट गयी थी। भारत की इस हार से पाकिस्तानी ज्यादा बौखलाये है, उन्हें लगता है कि पाकिस्तान के वर्ल्डकप में बाहर होने की वजह भारत है इसलिए ये ज्यादा बौखलाये हुए है और तमाम तरह के उलजुलूल आरोप लगा रहे हैं।

इसी कड़ी में पूर्व पाकिस्‍तानी क्रिकेटर और विशेषज्ञ मोइन खान ने मोहम्मद शमी को टीम से बाहर जाने के पीछे मुसलमान होने और भाजपा का हाथ होना बताया है। उनका कहना है कि शमी को श्रीलंका के खिलाफ मैच में इसलिए आराम दिया गया, क्‍योंकि भाजपा का एजेंडा मुस्लिमों को आगे नहीं बढ़ने देना है। मोहम्मद शमी शानदार प्रदर्शन कर रहे थे, वो 15 विकेट ले चुके थे। वो रिकॉर्ड बनाने के बेहद करीब थे। वह सबसे ज्‍यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्‍ट में शीर्ष दो या तीन में पहुँच सकते थे। लेकिन अचानक से उन्हें बैठा दिया गया। मोइन का मानना है कि शमी को बाहर बैठाने के लिए टीम इंडिया पर दबाव था। उन्होंने कहा कि उन्हें लगता है कि शमी को बाहर बैठाने का कारण भाजपा का मुस्लिमों को आगे नहीं बढ़ने देने का एजेंडा है।

गौरतलब है कि टीम इंडिया ने वर्ल्ड कप 2019 का आखिरी लीग मैच श्रीलंका के खिलाफ लीड्स में खेला था। इस मैच में भारतीय टीम ने श्रीलंका को 7 विकेट से हरा दिया। भारतीय टीम ने शनिवार (जुलाई 6, 2019) को इस मुकाबले के लिए दो बदलाव किए थे। मोहम्मद शमी और युजवेंद्र चहल को आराम देकर रवींद्र जडेजा और कुलदीप यादव को मैदान में उतारा गया था। चूँकि, लीड्स की पिच स्पिनर के अनुकूल थी, स्पिनर के लिए ये पिच फायदेमंद साबित हो सकती थी, इसलिए टीम इंडिया ने शमी की जगह जडेजा को वर्ल्ड कप में पहली बार मौका दिया था।

- Advertisement -
Awantika Singhhttp://epostmortem.org
Social media enthusiast , blogger, avid reader, nationalist , Right wing. Loves to write on topics of social and national interest.
error: Content is protected !!