टीम इंडिया के नए कोच को लेकर खोज शुरू हो चुकी है। बीसीसीआई (BCCI) ने कोच और Support Staff  की भर्ती को लेकर विज्ञापन निकाल दिए हैं। ऐसे में कौन होगा टीम इंडिया का नया कोच इसको लेकर अटकलों का बाजार गर्म होना शुरू हो गया है। लेकिन इस बार नए कोच के चयन प्रक्रिया से कप्तान विराट कोहली को बेदखल कर दिया गया है। यानी इस बार कोहली की पसंद और नापसंद का ख्याल नहीं रखा जाएगा।

अंग्रेजी अखबार ‘इंडियन एक्सप्रेस’ के मुताबिक, इस बार नए कोच को लेकर विराट की राय नहीं ली जाएगी। जबकि पिछली बार यानी 2017 में जब रवि शास्त्री को टीम इंडिया का कोच बनया गया था तब विराट से उनकी राय मांगी गई थी। नए कोच पर आखिरी फैसला टीम इंडिया के पूर्व विश्व विजेता कप्तान कपिल देव ले सकते हैं। इसके बाद प्रशासकों की समिति (CoA) की तरफ इस पर आखिरी मुहर लगाई जाएगी।

गौरतलब है कि साल 2017 में जब कोच के तौर पर अनिल कुंबले का कार्यकाल नहीं बढ़ाया गया था उस वक्त भी विराट से राय ली गई थी। विराट और अनिल कुंबले के बीच अनबन थी और विराट कोहली के कहने पर ही कुंबले को कोच के पद से हटाया गया था। कोहली ने उनके साथ काम करने पर आपत्ति जताई थी। ‘अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, बीसीसीआई के एक अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि इस बार कपिल देव नए कोच पर विराट की राय नहीं लेंगे। इस बार टीम इंडिया के सपोर्ट स्टाफ का चयन टीम इंडिया के सेलेक्टर्स करेंगे न कि नए कोच, पिछली बार कोच रवि शास्त्री ने खुद सपोर्ट स्टाफ का चयन किया था।

बीसीसीआई ने मंगलवार को मुख्य कोच समेत टीम के अन्य सपोर्टिंग स्टाफ के लिए आवेदन मंगाए हैं। जिन पदों के लिए आवेदन मांगे गए हैं, उनमें भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम के मुख्य कोच, बल्लेबाजी कोच, गेंदबाजी कोच, फील्डिंग कोच, फिजियोथेरेपिस्ट, स्ट्रेंथ एंड कंडीशनिंग कोच और प्रशासकीय मैनेजर के पद शामिल हैं। बीसीसीआई ने कहा है कि इच्छुक आवेदक अपनी एप्लीकेशन 30 जुलाई 2019 को शाम पांच बजे से पहले भेज सकते हैं।