आम आदमी का चोला पहनकर और बड़े-बड़े नेताओं को भ्रष्ट बता कर जो साहब कभी ईमानदार छवि की वजह से मुख्यमंत्री बने थे, उन्होंने आज अपनी गन्दी राजनीति के चलते बड़े से बडे़ घाघ राजनेता को भी पीछे छोड़ दिया है। जी हाँ हम बात कर रहे हैं भारत के सबसे चर्चित मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की।

एक समय कांग्रेस के ख़िलाफ़ जनता को रोजाना अपने साथ धरने पर बिठाकर अपने राजनीतिक कैरियर की बुनियाद रखने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल पिछले कई महीनों से कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन करने के लिए दिन-रात प्रयास कर रहे थे, लेकिन आज उनकी उम्मीदों पर शीला दीक्षित ने पानी फेर दिया।

लोकसभा चुनाव में दिल्ली में बीजेपी को टक्कर देने के लिए आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के गठबंधन की चर्चा पर अब खुद दिल्ली के पूर्व सीएम शीला दीक्षित ने विराम लगा दिया है। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की सातों सीटों पर बीजेपी को हराने के लिए आम आदमी पार्टी के नेताओं ने कांग्रेस को गठबंधन के लिए मनाने की खूब कोशिशें कीं लेकिन कांग्रेस नहीं मानी। केजरीवाल की इस राजनीति पर रोहित सरदाना ने तंज कसा है।

सवाल यह है कि जिस कांग्रेस की सीएम शीला दीक्षित को भ्रष्टाचार के ख़िलाफ केजरीवाल कभी 370 पेज के सबूत दिखाकर, जेल में भेजने की बात करते थे, उन्हीं शीला दीक्षित से मिलने के लिए आज केजरीवाल गिड़गिड़ा रहे हैं। शीला दीक्षित को ‘आप’ ने जेल भेजने का जो वादा किया था उसे लगता है ‘आप’ भूल गए हैं। कोई बात नही लेकिन यह तो नहीं भूलना चाहिए कि जिस कांग्रेस से समर्थन के लिए लार टपक रही है उसी के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाकर आपने दिल्ली की जनता से वोट माँगा था।

आज जब कांग्रेस से गठबंधन की बात नहीं बनी तो अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस पर ही बीजेपी से गठबंधन का आरोप लगा दिया। एक समय था जब अरविंद केजरीवाल कांग्रेस को उसके भ्रष्टाचार के लिए कोसते थे। एक यह समय है जब वे कांग्रेस को आम आदमी पार्टी से गठबंधन नहीं करने के लिए कोस रहे हैं।

‘सब मिले हुए हैं जी’ से ‘बच्चों की कसम खाता हूँ’ के रास्ते चलकर ‘कांग्रेस से कहकर थक गया गठबंधन कर लो, वो मानते ही नहीं’ से होते हुए ‘हमारी बात चल रही है कि 3-3 सीटों पर लड़ें’ तक जाने वाली गाड़ी वापस ‘भाजपा-कांग्रेस में गुपचुप मेल है जी’ तक पहुँची।

केजरीवाल के इस तर्क पर रोहित सरदाना ने चुटकी ली है।

केजरीवाल की ही पार्टी के नेता कुमार विश्वास ने भी उनके इस तर्क पर जमकर निशाना साधा है।

एक और आम आदमी पार्टी के नेता कपिल मिश्रा ने केजरीवाल की इस दयनीय दशा के लिए उनके द्वारा भूत में की गई गलतियों को जिम्मेदार बताया है।

1 COMMENT

Leave a Reply