Ola-उबर की तरह अब खेती के काम के लिए बुक करें ट्रैक्टर, मोदी सरकार ने शुरू किया ऐप

- Advertisement -

अभी तक लोग ऐप से कैब वगैरह ही मंगाते थे, लेकिन अब आप एक सरकारी ऐप से ट्रैक्टर समेत खेती के लिए काम आने वाली कई चीजें मंगा सकते हैं। यह सरकारी ऐप ठीक उसी तरह काम करता है, जैसे ओला, ऊबर के ऐप काम करते हैं। कृषि विभाग के इस खास ऐप से किसान खेती के लिए ट्रैक्टर समेत अन्‍य उपकरण मंगा सकते हैं, हालांकि इसके लिए किसान को किराया भी देना होगा।

दरअसल, हाल ही में कृषि मंत्रालय की ओर से ‘CHC Farm Machinery’ ऐप लॉन्‍च किया गया है। इस ऐप पर किसानों को कस्टम हायरिंग सेंटर्स (CHCs) के जरिए खेती से जुड़ी मशीन मुहैया कराई जाएगी। इसके लिए 35 हजार कस्टम हायरिंग सेंटर्स देशभर में बनाए जा चुके हैं, जिनकी क्षमता 2.5 लाख कृषि उपकरण सालाना किराये पर देने की है।

- Advertisement -

कैसे काम करता है ऐप

कृषि मंत्रालय का ‘CHC Farm Machinery’ ऐप गूगल प्‍ले स्‍टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। यह ऐप अंग्रेजी, हिंदी, उर्दू, नेपाली, कन्‍नड, मराठी, बंगाली समेत 12 अलग-अलग लैंग्‍वेज में मौजूद है। इस ऐप को डाउनलोड करने के बाद आपको लैंग्‍वेज सेलेक्‍ट करना होगा। इसके अगले स्‍टेप में आपको दो कैटेगरी- CHC/ सर्विस प्रोवाइडर और किसान/उपयोगकर्ता दिखेंगे। इसमें किसान/उपयोगकर्ता कैटेगरी को सेलेक्‍टर कर रजिस्‍ट्रेशन करना होगा।

इसके लिए किसान को नाम, पता और मोबाइल नंबर समेत अन्‍य जरूरी जानकारियां देनी होगी। इसके बाद के स्‍टेप में डैशबोर्ड खुल जाएगा। इस डैशबोर्ड में ‘कृषि यंत्र की बुकिंग’ समेत 7 अलग-अलग कैटेगरी है। ‘कृषि यंत्र की बुकिंग’ की कैटेगरी को सेलेक्‍ट करने के बाद एक नया पेज ओपन होगा। इस पेज पर आपको कृषि यंत्र का चयन करना होगा।

मतलब यह कि आपको बताना होगा कि खेती के लिए कौन सा उपकरण चाहिए। इसमें आपको ट्रैक्‍टर, ट्रेलर, हैप्‍पी सीड, थ्रेसर समेत 25 से ज्‍यादा उपकरण मिलेंगे। इन उपकरणों में से किसी को भी सेलेक्‍ट कर सकते हैं। यहां बता दें कि ऐप में एक से अधिक उपकरण का भी चयन किया जा सकता है।

इसके अलावा यह जानकारी भी देनी होगी कि उपकरण या मशीन आपको कितने दिन के लिए चाहिए। वहीं फसल, गांव समेत अन्‍य जरूरी जानकारियां भी देना अनिवार्य है। यहां बता दें कि यह सुविधा खेती के इलाके से 50 किलोमीटर के भीतर कस्टम हायरिंग सेंटर्स होने की स्थिति में ही मिलेगी। यह सभी जानकारियां देने के बाद आपको बुकिंग का बटन दिखेगा। इसे क्‍लिक करने के बाद आप बुक किए गए मशीन या उपकरण के किराए से जुड़ी जानकारी ले सकते हैं।

किसानों की आय डबल करने का प्रयास

दरअसल, मोदी सरकार किसानों की आय दोगुना करने की दिशा में काम कर रही है। इसके तहत कई कदम उठाए जा रहे हैं। उदाहरण के लिए पीएम किसान स्कीम के तहत सालाना 6000 रुपये का ऐलान किया गया तो वहीं पेंशन की सुविधा की भी शुरुआत की जा रही है।

- Advertisement -
Awantika Singhhttp://epostmortem.org
Social media enthusiast , blogger, avid reader, nationalist , Right wing. Loves to write on topics of social and national interest.
error: Content is protected !!