रविवार को लंदन के लॉर्ड्स क्रिकेट मैदान में खेले गए क्रिकेट विश्वकप के फाइनल में इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को रोमांचक मुकाबले में हरा खिताब अपने नाम कर लिया। क्रिकेट के इतिहास में इंग्लैंड ने पहली बार विश्वकप जीता है। इंग्लैंड औऱ न्यूजीलैंड दोनों ही पहली बार खिताब के करीब थे। इस खास मुकाबले में जीत के बाद जश्न भी धमाकेदार हुआ। जीत के जश्न का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।

दरअसल इस वीडियो में दिख रहा है ट्रॉफी जीतने के बाद इंग्लैंड के खिलाड़ी वर्ल्ड कप के साथ कैमरे के सामने पोज दे रहे थे। इस फोटो सेशन में टीम के सारे खिलाड़ी मौजूद थे। फिर जैसे ही जश्न के लिए शैम्पेन की बोतल खोली गई टीम के दो मुस्लिम क्रिकेटर वहां से निकल लिए। ये दोनों क्रिकेटर थे मोईन अली और आदिल रशीद।

इस वीडियो को इमाम तवाहिदी ने भी अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर किया है। इमाम तवाहिदी ऑस्ट्रेलिया में रहते हैं और इस्लामिक कट्टरपंथ के खिलाफ सोशल मीडिया में अपनी बात रखते रहते हैं। इस वीडियो को ट्वीट करते हुए इमाम ने लिखा- ब्रिटिश मुस्लिम क्रिकेटर शैम्पेन देख भाग खड़े हुए। मैं हंसी रोक नहीं पा रहा।

इस वीडियो पर लोगों के खूब कमेंट्स आ रहे हैं। लोग इन दोनों ही खिलाड़ियों को जमकर कोस रहे हैं। @maango_maan नाम के यूजर ने लिखा- ये वाकई हास्यास्पद है। आप लंदन में रहते हैं और ये भी जानते हैं कि वहां पर शैम्पेन के साथ जश्न मनाने का रिवाज है। जब आपने वहां का सबकुछ अडॉप्ट कर लिया है तो फिर किसी इस्लामिक कंट्री की तरह क्यों बिहेव कर रहे हो।

वहीं अंकुर मिश्रा @ankur9329 ने लिखा देश वर्ल्ड कप जीता, जश्न का माहौल है। ऐसे खुशी में आदमी सब कुछ भूल जाता है। पर धर्म विशेष के लोग ये नहीं भूल पाते। क्या हलाल है और क्या हराम है।

जबकि संग्राम सिंह ने लिखा “क्या आपने गौर किया, इन लोगो ने राष्ट्रगान भी उस तरीके से नही गाया जैसे इंग्लैंड के बाकी खिलाड़ियों ने गाया।”

वहीं @vinayaksavashe नाम के यूजर ने लिखा कि अगर यो लोग ऐसे ही आतंकवाद से भागते तो दुनिया कितनी खूबसूरत होती।