वर्ष 2018 के बहुचर्चित जम्मू कश्मीर के कठुआ कांड में एक नया मोड़ सामने आया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के नाम पर कुछ लोगों ने चंदे के माध्यम से जो पैसे इकट्ठे किए थे, उसमें से 10 लाख रुपए कुछ अज्ञात घोटालेबाजों ने पीड़िता के पिता को बिना जानकारी दिए बैंक उनके बैंक खाते से निकाल लिए हैं।

पीड़िता के पिता के अनुसार, उनके बैंक खाते में वर्ष 2018 के अंत तक 21 लाख रुपए थे, जो कि बैंक खाते के स्टेटमेंट से भी पता चलता है। लेकिन पिछले तीन महीनों में कुछ लोगों ने धोखाधड़ी करके उनके बैंक खाते से 10 लाख रुपए निकाल लिए, जिससे परिवार हैरान रह गया। बताया जा रहा है कि यह रकम जिन्होंने इकट्ठा किया था, उन्हीं के करीबियों ने निकाला है।

इससे पहले पीड़ित परिवार ने अपने वकील दीपिका सिंह राजावत को इस केस से हटा दिया था। इस सिलसिले में उनका कहना था कि वकील मामले की हर तारिख पर न्यायालय नहीं आती थीं और खुद की जान का खतरा बताती थीं। परिवार का कहना था कि वह इस केस में रुचि भी नहीं लेती थीं।