लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार के दौरान मशहूर अमेरिकी मैगजीन ‘टाइम’ ने अपने कवर पेज पर पीएम नरेंद्र मोदी को ‘डिवाइडर इन चीफ’ यानी ‘तोड़ने वाला मुखिया’ बताया था। लेकिन प्रचंड बहुमत वाले परिणाम आने के बाद टाइम मैगजीन के सुर बदल गए हैं। अब टाइम मैगजीन के एक आर्टिकल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जमकर तारीफ की गई है।

इसमें कहा गया है कि जिस तरह पीएम मोदी ने देश को जोड़ा, वैसा दशकों में कोई और नहीं कर पाया। इस आर्टिकल में कहा गया कि पीएम मोदी के पहले कार्यकाल में उनकी नीतियों की तमाम आलोचनाओं और उसके बाद मैराथन लोकसभा चुनावों के बावजूद पिछले पांच दशकों में उन्‍होंने जिस तरह मतदाताओं को जोड़ा, वैसा पिछले पांच दशकों में नहीं हुआ।

टाइम पत्रिका ने हेडलाइन के साथ अपनी एक रिपोर्ट प्रकाशित की है। रिपोर्ट की हेडलाइन में लिखा है ‘मोदी हैज यूनाइटेड इंडिया लाइक नो प्राइम मिनिस्टर इन डिकेड्स ( Modi Has United India Like No Prime Minister in Decades )। मैगजीन की रिपोर्ट में कहा गया है कि पीएम मोदी न सिर्फ सत्ता में वापस आने में कामयाब रहे, बल्कि उन्होंने अपने समर्थन को भी बढ़ाया है। रिपोर्ट के मुताबिक पीएम मोदी की नीतियों की वजह से न सिर्फ हिंदू बल्कि अल्पसंख्यक समूदाय के लोग भी काफी हद तक गरीबी से बाहर निकलने में सफल रहे हैं। यहीं नहीं पीएम मोदी विभाजक रेखाओं और जातीगत मतभेदों को पाटने में भी सफल रहे हैं।

आपको बता दें, लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टाइम मैगजीन ने ‘डिवाइडर इन चीफ’ (Divider in Chief) बताया था। हालांकि यह लेख एक पाकिस्तानी लेखक आतिश तासीर ने लिखा था, तासीर ने लिंचिंग के मामलों और यूपी में योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बनाए जाने समेत कई बातों को लेकर मोदी सरकार की आलोचना की थी। बीच चुनाव में आए उस अंक ने भारत में काफी सुर्खियां बटोरी। मोदी समर्थकों ने जहां टाइम की कवर स्टोरी की कड़ी आलोचना की, वहीं मोदी विरोधियों ने उसे हाथो हाथ लिया था। गौरतलब है कि तासीर को भारत के बारे में कोई जानकारी नही है। उनकी माँ तवलीन सिंह एक हिंदुस्तानी पत्रकार है, जिनकी हैसियत भारत मे एक दरबारी पत्रकार से ज्यादा नही है। तवलीन सिंह की पत्रकारिता हमेशा सत्ता के समर्थन में रही है।

Leave a Reply