येरूशलम : बीते शुक्रवार एक बार फिर हम्मास द्वारा तेल अवीव (इज़रायल की राजधानी) पर राकेटों से हमला किया गया। इज़रायल ने जवाब में गाजा पट्टी पर हवाई हमला कर दिया। इस हवाई हमले में हम्मास के सौ से अधिक ठिकानों को निशाने पर लिया गया और उन्हें लगभग नष्ट कर दिया गया है। 

इज़रायल के मुताबिक़ 2014 की गरमियों के बाद से ये एक बड़ा हमला करने की कोशिश हम्मास ने की है। परन्तु कोशिश बेकार गई है चूँकि रॉकेट तेल अवीव के ख़ाली मैदानों में गिरे और किसी भी तरह का आर्थिक या जान का नुक़सान नहीं हुआ है। 

CNN के मुताबिक़ इज़रायल ने दागे गये रॉकेटों का बहुत ही कड़ा जवाब देते हुए ग़ाज़ा पट्टी पर स्थित हम्मास के ठिकानों पर हवाई हमला कर दिया। इस हमले में इज़रायली डिफ़ेंस फ़ोर्स (IDF) ने लड़ाकू विमानों के साथ साथ अटैक हेलीकॉप्टर्स, और मिसाइलों का प्रयोग भी किया जिसमें हम्मास के आतंकी ठिकानों के साथ साथ एक भूमिगत रॉकेट फ़ैक्टरी भी नष्ट कर दी गई। इस फ़ैक्टरी में हथियार चलाने की ट्रेनिंग भी दी जाती थी। इस हवाई हमले में एक भूमिगत रसद भंडार को भी पूरी तरह से नष्ट कर दिया गया। इस हमले में ग़ाज़ा पट्टी पर मृतकों की संख्या पर फ़िलिस्तीन की तरफ से कोई बयान नहीं दिया गया है। हम्मास ने हमले की पुष्टि की पर किसी की भी जान जामे की बात से इंकार किया है। 

इस हमले के जवाब में हम्मास ने दुबारा इज़रायल पर नौ हल्के रॉकेट दागे जिसमें से छ: इज़रायल के लौह गुंबद सिस्टम (Iron Dome Aerial Defense System) से टकरा कर नष्ट हो गए और तीन रॉकेट ख़ाली मैदानों में गिरे। 

अमेरिका के सेक्रेटरी स्टेट माईक पोम्पे ने हम्मास के इस हमले की निन्दा करते हुए कहा है कि एक बार फिर से इज़रायली नागरिक आतंकवाद के उस ख़तरे में हैं जो कि तेहरान (ईरान) द्वारा पैदा किया गया है। हम हमेशा इज़रायल के साथ खड़े हैं। और इज़रायली नागरिकों को बिलकुल भी चिन्तित होने की आवश्यकता नहीं है। 

इसी के चलते हम्मास के कासम ब्रिगेड ने सफ़ाई देते हुए कहा मिस्र के एक सुरक्षा दस्ते कि दोनो पक्षों में मध्यस्थता के लिए प्रस्तावित यात्रा के  दौरान ये रॉकेट फ़ायर होने का “हादसा” हुआ। चूँकि वो टीम सुरक्षा उपकरणों की भी जाँच कर रही थी। तुरंत इस बात पर इज़रायली मीडिया की तरफ से कहा गया कि शायद पहली बार में फ़ायर किए गए रॉकेट शायद निम्न स्तर के रॉकेट ऑपरेटर की ग़लती से बिना निर्देश के हुए हैं। पर इज़रायल ने आधिकारिक तौर पर कोई भी बयान नहीं दिया है। 

Leave a Reply