उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौसले अब इस कदर बुलंद हैं, कि वो पुलिसकर्मियों को भी कुछ नही समझ रहे है। अलीगढ़ जिले से एक ऐसा ही हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां थाने के सामने चैकिंग कर रहे दरोगा पर अपराधी यूसुफ ने कार चढ़ाने का प्रयास किया, लेकिन दरोगा फिल्मी स्टाइल में उछलकर कार के बोनट से चिपक गए। इसके बावजूद भी यूसुफ ने कार नही रोकी और दरोगा बचाओ बचाओ चिल्लाते रहे।

जानकारी के मुताबिक, रविवार तकरीबन 11 बजे दारोगा जितेन्द्र तेवतिया टप्पल के आगे चेकिंग के लिए खड़े हुए थे। इसी दौरान उन्हें अलीगढ़ (aligarh) की तरफ से एक सफेद रंग की गाड़ी आते हुए दिखाई दी। जिसके बाद उन्होंने गाड़ी चालक को रुकने का इशारा किया तो युवक ने पहले तो गाड़ी की स्पीड कम की फिर बाद में उसे एक दम से बढ़ा दिया। जिसे देखकर दरोगा जितेंद्र तेवतिया फिल्मी स्टाइल में गाड़ी पर उछल पड़े और गाड़ी के बोनट पर आ गिरे। चालक ने कार की स्पीड बढ़ा दी।

कार से गिरने के भय से दरोगा बोनट को पकड़कर बचाओ-बचाओ… चिल्लाने लगे। पुलिस के साथ लोगों में भी घटना से हड़कंप मच गया। कार चालक बोनट पर चिपके दरोगा को तेज रफ्तार के साथ मोड़कर गांव नूरपुर की तरफ ले गया। थाने से करीब पांच किलोमीटर दूर गांव के समीप ही पहुंचा ही था कि तभी गायों का झुंड आ गया। इसके कारण चालक कार खड़ी कर गांव की तरफ भाग निकला।

पीछे से टप्पल थाने की फोर्स भी मौके पर पहुंच गयी। इसके बाद दरोगा ने फोर्स के साथ भाग रहे चालक को दबोच लिया। पुलिस द्वारा पूछताछ में कार चालक ने अपना नाम युसुफ पुत्र नजीव निवासी नूरपुर बताया है। पुलिस जांच में जुटी हुई है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दरोगा पर जानलेवा हमले के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक पकड़ा गया आरोपी युसुफ शातिर किस्म का अपराधी है। वह एडीएम कार्ड बदलकर लोगों को खाते से रकम पार कर देता था। उसके खिलाफ आगरा में दो मामले दर्ज हैं। अभी उसका क्राइम रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है।