बागपत : जौहड़ी गांव में शनिवार को सूप से आई बारात पर चढ़त के दौरान समुदाय विशेष के लोगों ने हमला बोल दिया, जिसमें दो लोग घायल हो गए। गुस्साए लोगों ने बड़ौत-मेरठ मार्ग पर जाम लगाकर हंगामा किया।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, उत्तर प्रदेश के बागपत जिले जौहड़ी गांव में शनिवार को हरबीर कश्यप की बेटी सरिता की सूप गांव से बारात आई थी। डीजे पर बराती नाचते हुए मुस्लिम बाहुल्य इलाके में पहुंचे। बराती नोट उड़ा रहे थे और वहां संप्रदाय विशेष के कुछ बच्चे रुपये उठा रहे थे। कुछ बरातियों ने बच्चों को एक साइड कर दिया। इसी बात को लेकर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने लाठी-डंडों और धारदार हथियारों के साथ बरातियों पर हमला बोल दिया जिसकी वजह से बारात में भगदड़ मच गई।

इस हमले में सूप निवासी एक युवक राहुल पुत्र राजीव गंभीर रूप से घायल हो गया। दूल्हे ने किसी तरह वहां से भागकर जान बचाई। बचाव में आए दुल्हन के चचेरे भाई राहुल पुत्र कालू को भी हमलावरों ने मारपीट कर घायल कर दिया। सांप्रदायिक झगड़े की सूचना पर पुलिस में हड़कंप मच गया। भारी संख्या में पुलिस फोर्स पहुँची। हमलावर पुलिस को देखकर घरों में घुस गए और अंदर से दरवाजे बंद कर लिए। पुलिस ने घायल पांच युवकों को सीएचसी में भर्ती कराया।

इसको लेकर दुल्हन व दूल्हा पक्ष के लोगों में आक्रोश व्याप्त हो गया। हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर लोगों ने मेरठ-बड़ौत मार्ग जाम कर दिया। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। सूचना पर पहुंची बिनौली पुलिस के साथ भी ग्रामीणों की नोकझोंक हुई।

बिनौली इंस्पेक्टर रवीन्द्र सिंह ने ग्रामीणों को शांत करने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं मान रहे थे। पुलिस ने दबिश देकर एक आरोपी को हिरासत में लिया। इसके बाद भी ग्रामीणों ने जाम नहीं खोला। करीब एक घंटे बाद पुलिस ने बल प्रयोग कर जाम खुलवाया। पीड़ितों ने आरोपियों के खिलाफ तहरीर दी। थानाध्यक्ष रवीन्द्र सिंह ने बताया कि मामले की जांच कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply