कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की नागरिकता पर एक गंभीर प्रश्न खड़ा हो गया है। अमेठी के निर्दलीय लोकसभा प्रत्याशी ध्रुवलाल ने निर्वाचन अधिकारी को एक प्रार्थना पत्र देकर उनके नामांकन पर सवाल उठाते हुए पूछा कि राहुल गांधी भारतीय हैं या ब्रिटिश? क्योंकि उनके शैक्षणिक प्रमाणपत्रों में उनका नाम ‘राउल विंची’ (Raul Vinci) है और देश की जानकारी में ‘राहुल गांधी’।

दरअसल, अमेठी के निर्दलीय लोकसभा प्रत्याशी ध्रुवलाल ने रिटर्निंग अधिकारी के सामने एक प्रार्थना पत्र देकर उनसे पूछा कि राहुल गांधी भारतीय नागरिक हैं या ब्रिटिश? इस पर स्थिति स्पष्ट की जाए। जिसके बाद आरओ ने राहुल गांधी के वकील राहुल कौशिक से इस पर जवाब मांगा, तो कौशिक ने कहा कि इसका जवाब उनके पास नहीं है। इसके लिए उन्हें कुछ समय चाहिए।

मीडिया से बातचीत में ध्रुवलाल ने बताया कि उन्होंने इस संबंध में अपनी आपत्ति दर्ज कराई है। आरओ ने उन्हें सोमवार (22 अप्रैल) का समय दिया है, जिस दिन वो अपना पक्ष रखेंगे। दूसरी तरफ राहुल गांधी को भी उनके वकील के माध्यम से नोटिस भेज दिया गया है। बता दें कि जो भी व्यक्ति कोई भी चुनाव लड़ता है, तो उसके वकील के पास अपने क्लाइंट से जुड़ी हर जानकारी रहती है, लेकिन यहां ऐसा नहीं है।

ध्रुवलाल के वकील रवि प्रकाश ने कहा, “यूके में पंजीकृत एक कंपनी के कागजातों के अनुसार उन्होंने खुद को ब्रिटिश नागरिक बताया है। उनकी शैक्षणिक प्रमाणपत्रों में एक नहीं कई गलतियाँ हैं। उन्हें अपना वास्तविक प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना चाहिए, जिससे कि उनके (राहुल गांधी) दावे सच हो सकें।”

निर्दलीय प्रत्याशी द्वारा राहुल की नागरिकता पर सवाल उठाने के बाद उधर बीजेपी ने भी तुरंत हमला बोल दिया। तमाम तरह के कागजातों के साथ बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं राज्यसभा सांसद जीवीएल नरसिम्हा राव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि राहुल गांधी देश के संविधान और देश के लोगों को धोखा दिया है। उन्होंने आगे कहा, “राहुल गांधी को सोमवार तक का समर दिया गया है। यह बहुत ही आश्चर्य की बात है कि उनके नागरिकता पर आपत्तियां दर्ज कराई गईं और अभी तक इसका खंडन नहीं किया गया है।”

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले बीजेपी के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने भी राहुल की नागरिकता एवं एजुकेशनल क्वालिफिकेशन पर सवाल उठाते हुए सोशल मीडिया पर एक मार्कशीट साझा की थी, जिसमे उन्होंने दावा किया था कि राहुल गांधी एमफिल में फेल हैं और उनका नाम ‘राउल विंची’ है।

उन्होंने आगे यह भी कहा कि राहुल गांधी ने 2004-05 में भारत का सांसद होते हुए यूके में आयकर का भुगतान किया था। उन्होंने आगे यह भी कहा कि राहुल गांधी उन्होंने देश से और अपने नामांकन पत्र में भी झूठ बोला है। उनकी नागरिकता तत्काल खत्म कर देनी चाहिए।

आपको बता दें भारतीय नागरिकता कानून 1955 के तहत यदि कोई व्यक्ति भारत के अलावा अन्य किसी दूसरे देश का भी नागरिक है, तो उसकी भारतीयता समाप्त हो जाती है। अगर निर्दलीय उम्मीदवार द्वारा राहुल गांधी पर लगाए गए आरोप सही पाए जाते हैं, तो राहुल गांधी की नागरिकता समाप्त कर दी जाएगी और भविष्य में वह कोई भी चुनाव नहीं लड़ पाएंगे।

1 COMMENT

  1. […] भर चुके होते हैं और भारत के लोग उनकी नागरिकता पर सवाल करते हैं, तो चुप्पी साध लेते हैं। आखिर में गृह […]