जेट एयरवेज (Jet Airways) के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल (Naresh Goyal) को मुंबई एयरपोर्ट पर इमिग्रेशन अथॉरिटी ने शनिवार को विदेश जाने से रोक दिया। वह अपनी पत्नी के साथ विदेश यात्रा पर जा रहे थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल को शनिवार को दुबई जाने से रोक लिया गया। वो पत्नी के साथ मुंबई एयरपोर्ट से फ्लाइट में सवार हो चुके थे। यह एमीरेट्स एयरलाइंस की फ्लाइट थी। टेक ऑफ के लिए हरी झंडी मिल चुकी थी। तभी प्रवर्तन अधिकारियों ने कहा कि फ्लाइट में इमीग्रेशन क्लीयरेंस से संबंधित कुछ दिक्कत है। इसलिए उसे रोका जाए। इसके बाद दो लोगों को फ्लाइट से उतार लिया गया। यह नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनिता गोयल थे। इमीग्रेशन अधिकारियों ने हिरासत में लिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस फ्लाइट से एक और व्यक्ति को उतारा गया लेकिन इसकी वजह खराब सेहत थी। गोयल शनिवार दोपहर 3.35 बजे एमीरेट्स एयरलाइंस के बोइंग 777 से दुबई जा रहे थे। इमरजेंसी फंडिंग नहीं मिलने की वजह से 17 अप्रैल से जेट एयरवेज का संचालन बंद है। आर्थिक संकट में फंसी जेट का संचालन 17 अप्रैल से अस्थाई रूप से बंद है। बीते एक महीने में एयरलाइन के ज्यादातर बोर्ड मेंबर भी इस्तीफा दे चुके हैं।

सीरियस फ्रॉड इन्वेस्टिगेशन ऑफिस (SFIO) और प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) द्वारा जेट एयरवेज संकट की जांच की जा रही है। देश की बड़ी एयरलाइंस में शुमार रही जेट एयरवेज 1.2 अरब डॉलर के कर्ज संकट से जूझ रही है और उस पर लेसर्स, सप्लायर्स, पायलटों और तेल कंपनियों का खासा पैसा बकाया है। अब ग्राउंडेड हो चुकी जेट एयरवेज के लेंडर्स ने एयरलाइन की कंट्रोलिंग स्टेक ले ली है और वे अपने बकाये की वसूली के लिए स्टेक बेचने की प्रक्रिया में है।

बता दें कि विमान कंपनी जेट एयरवेज इस समय अपने मुश्किल दौर से गुजर रही है। जेट एयरवेज की उड़ानें अस्थाई रूप से बंद कर दी गई हैं। आर्थिक बदहाली के चलते नरेश गोयल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। वहीं नरेश गोयल को लुक आउट नोटिस जारी हुआ था जिसके चलते वो देश नही छोड़ सकते।

(ज्यादा डिटेल के लिए सब्सक्राइब करे)

Leave a Reply