बिहार के नालंदा जिले में बुधवार को मुहर्रम के जुलूस के दौरान एक बेहद दर्दनाक हादसा हुआ जब एक व्यक्ति ने तलवारबाजी करते हुए गलती से खुद की गर्दन काट ली और उसकी मौत हो गई। घटना के बाद व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया पर तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। बहरहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

खबर के मुताबिक, बिहार शरीफ के लहेरी थाना क्षेत्र अंतर्गत सोगरा कॉलेज के पास की है जब दोपहर के वक्त शहर में मुहर्रम का जुलूस निकाला जा रहा था। इसी जुलूस में शामिल तलवारबाजी करते हुए 60 वर्षीय मोहम्मद सयूम की तलवार गलती से उनकी खुद की गर्दन पर लग गई, जिसमें उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

इस घटना के बाद जुलूस में अफरा-तफरी का माहौल हो गया और लोगों ने आनन-फानन में पुलिस और प्रशासन को इत्तला दी। इसके बाद उन्हें तुरंत सदर अस्पताल ले जाया गया जहां पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। डॉक्टरों के मुताबिक गला कट जाने की वजह से मृतक के शरीर से खून काफी मात्रा में बह गया था जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई।

हीं इस घटना के संबंध में मृतक सैयद के पुत्र मोहम्मद फिरोज ने बताया कि हर साल की तरह थवई मोहल्ले से मोहर्रम के दिन जुलूस निकलता था और मोहम्मद सैयूब भी हजारों की संख्या में हाथों में तलवार लेकर आगे बढ़ रहे जुलूस में शामिल थे। इसी दौरान यह हादसा हो गया।

बता दें, मोहर्रम और गणेश पूजा को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की गई थी, जिसमें ताजिया जुलूस के दौरान सभी तरह से हथियारों पर पूर्ण रूप से रोक लगाई गई थी। इसके बाबजूद भी तलवारबाजी की गई जिस दौरान ये हादसा हुआ।

इस घटना की सूचना मिलते ही एसपी निलेश कुमार, एसडीएम जनार्दन प्रसाद अग्रवाल, सीओ अरुण कुमार सिंह, थानाध्यक्ष दीपक कुमार ने सदर अस्पताल पहुँचकर मामले की जाँच की। फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बिहार शरीफ और अस्पताल भेज दिया है। पुलिस मामले की जाँच कर रही है।