गत 2 जून को अलीगढ़ के टप्पल इलाके में दो वर्षीय मासूम की लाश क्षत विक्षत हालत में घर के पास एक कूड़े के ढेर में मिली। पुलिस ने बच्ची के शव को तुरंत अपने कब्जे में लेकर अंत्यपरीक्षण के लिए भेज दिया। उस बच्ची के साथ हद दर्जे की दरिंदगी हुई है। उसकी मेडिकल रिपोर्ट में उसके हरेक अंग का विवरण है, जिसे पढ़कर किसी के भी होश उड़ जाएंगे। पुलिस ने आरोपियों मोहम्मद जाहिद और असलम को तुरंत गिरफ्तार कर लिया।

एक तरफ इस घटना से जहां पूरे देश में भयंकर रोष व्याप्त है, जनता का गुस्सा अपने चरम सीमा पर है, तो वहीं दूसरी तरफ विशेष समुदाय के कुछ लोग बच्ची के साथ घटी वीभत्स घटना पर खुशी मना रहे हैं और इस घटना को वो कठुआ कांड का बदला बता रहे हैं। मोहम्मद नौशाद नाम के व्यक्ति ने इस घटना को आसिफा का बदला बताया है। उसने फेसबुक पर एक पोस्ट के कमेंट में कहा कि जब तक आसिफा को न्याय नहीं मिल जाता, तब तक हम (मुसलमान) हिंदुओं के बच्चों के साथ ऐसे ही करते रहेंगे। उसने आगे कहा कि अभी आगे ऐसी और घटनाओं को वे अंजाम देंगे।

यह कमेंट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है और लोग पुलिस से इस व्यक्ति के खिलाफ कारवाई करने की मांग कर रहे हैं। अलीगढ़ की उस बच्ची के साथ जो बर्बरता हुई, उसे देख सुन किसी के भी रोंगटे खड़े हो जाएं। बच्ची की दोनों आंखें गायब, यौनांग गायब, पेशाब की थैली गायब, बायां हाथ टूटा हुआ, तेजाब से जलाने की कोशिश और शरीर गल गया था। इतनी बर्बरता करते हुए उस दरिंदे की रूह नहीं कांपी और मात्र 10000 रुपए के लिए उसने नामर्दी दिखा दी। आपको बता दें कि आरोपी ने 50 हजार रुपए पीड़िता के पिता से उधार लिए थे, जिसमे से उसने 40 हजार दे दिए थे। बाकी के 10 हजार ना देने पर बच्ची के पिता से कहासुनी हुई थी और दरिंदे ने अपनी दरिंदगी दिखा दी।