उत्तर प्रदेश के फतेहपुर के एक गांव में 6 साल की मासूम के साथ रेप और हत्या की दिल दहला देने वाली वारदात हुई है। पड़ोस के ही रहने वाले फारुख नाम के युवक को गिरफ्तार कर लिया है, गांव वालों के मुताबिक बिस्किट दिलाने के बहाने 24 साल का फारुख उस बच्ची को ले गया और रेप के बाद उसकी हत्या कर दी। शव को बोरी में भरकर ठिकाने लगाने जे रहा था तभी गांव वाली की नजर उस पर पड़ी और उसे पकड़ कर उसकी पिटाई कर दी। पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक बच्ची देर शाम घर के बाहर खेल रही थी। तभी पड़ोसी फारूख पुत्र रज्जाक उसे बिस्किट बहाने से घर बुला ले गया और पड़ोस के ही एक खाली मकान में दरिन्दे ने मासूम का मुंह दबाकर दुष्कर्म किया। बच्ची चीखती रही लेकिन दरिंदा का दिल नहीं पसीजा और रेप के बाद पहचान होने के डर से उसकी गला दबाकर हत्या कर दी।

बच्ची की मां ने बताया कि शाम छह बजे तक उसने बेटी को घर के बाहर बच्चों के साथ खेलते देखा था। उसके बाद बेटी गायब हो गई। बच्चों से पता चला कि बेटी को मुहल्ले का फारुख अपने साथ ले गया था। वह दो बार फारुख के घर गई। फारुख ने कहा कि आपकी बेटी आई थी लेकिन चली गई। शक होने पर वह तीसरी बार फारुख के घर रात नौ बजे पहुंची। वहां फारुख की पत्नी व चार बच्चे भी थे। आनाकानी करने के दौरान ही एक बच्चा बोरे से टकराया तो चीख पड़ा। बोरे में शव होने का पता लगा तो फारुख भागने लगा। साथ गए लोगों ने उसे दबोचकर पीटना शुरू कर दिया। फारुख की पत्नी व बच्चे खिसक गए।

मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी नशे में था। पुलिस ने उसे अचेतावस्था में जिला अस्पताल में भर्ती कराया है और गांव में गस्त कर तनाव के माहौल को शांत कराया। सीओ सिटी कपिलदेव मिश्रा का कहना है कि बच्ची की मां कोई रंजिश नहीं बता पा रही है। वह दुष्कर्म व हत्या की बात कह रही है। बच्ची का शव बोरे में मिला है। आरोपी के नशे में होने की वजह से पूरा घटनाक्रम अभी नहीं खुल सका है। दुष्कर्म व हत्या से इंकार नहीं किया जा सकता। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से स्थिति स्पष्ट होगी। कहा जा रहा है कि आरोपी की पत्नी घटना के वक्त पड़ोसी के घर में थी। आरोपी व उसकी पत्नी प्रथम दृष्टया शक के दायरे में हैं।