तमिलनाडु के रामनाथपुरम जिले से भगवा कपड़े पहन कर हिन्दू साधुओं की तरह वेशभूषा बनाये एक संदिग्ध मुस्लिम युवक को गिरफ्तार किया गया हैं। इस 27 वर्षीय मुस्लिम युवक की पहचान अब्दुल वहाब के नाम पर हुई है जो महाराष्ट्र के सांगली जिले के रहने वाला है।

बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक, अब्दुल वहाब भगवा वस्त्र के अलावा हिन्दू सन्यासियों की तरह दाढ़ी मूँछ भी बढ़ाये हुए था। इस युवक की संदिग्ध गतिविधियों की वजह से तमिलनाडु पुलिस को शक हुआ और वह इस युवक को गिरफ्तार करके पूछताछ कर रही है।

तमिलनाडु पुलिस के मुताबिक हिन्दू सन्यासियों की तरह वेशभूषा धारण किये यह मुस्लिम युवक दिनभर तो मन्दिरो के पास चक्कर काटता रहता था लेकिन रात को सोने के लिए रामनाथपुरम जिले से 25 किलोमीटर दूर एरवाडी गाँव में स्थित पुरानी दरगाह पर जाता था। यह दरगाह पूरे राज्य में प्रसिद्ध है, और दूर-दूर से लोग इस पर आते हैं। माना जाता है कि यह दरगाह मानसिक रोग दूर कर सकती है।

पुलिस को उसकी इस हरकत पर शक हुआ और एक हफ्ते उस पर नजर रखने के बाद गिरफ्तार करके पूछताछ कर रही है। गौरतलब है कि खुफिया विभाग ने यह अलर्ट जारी किया था कि कुछ आतंकवादी हिन्दुओ की तरह माथे पर तिलक लगाकर हिन्दू साधुओं की वेशभूषा बनाकर तमिलनाडु में छिपे है।

ऑप इंडिया की एक खबर के मुताबिक एक ट्विटर यूज़र ने अब्दुल वहाब की भगवा चोले में और उसकी असली, सादे कपड़ों में तस्वीरें जारी करते हुए तमिलनाडु के प्राचीन मंदिरों पर जिहादी हमले का शक जताया है। साथ ही राज्य में और सुरक्षा की माँग की है।