मध्य प्रदेश के देवास में एक शादी एक दलित की बारात पर मुस्लिमो की भीड़ ने पथराव कर दिया जिसके चलते सांप्रदायिक तनाव फैल गया है। पथराव में एक व्यक्ति की मौत हो गई, वहीं कई लोग घायल हुए हैं। फिलहाल पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण में किया हुआ है, लेकिन स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है।

क्या है मामला

खबर के अनसुार, मध्य प्रदेश के देवास जिले की सोनकच्छ तहसील के पिपलियारावान इलाके में दलितों की एक बारात आयी हुई थी। रात के समय बारात का जुलूस निकल रहा था। जैसे ही यह जुलूस इलाके में स्थित मस्जिद के बाहर पहुंचा तो वहां पर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने मामूली कहासुनी के बाद बारात पर पथराव करना शुरू कर दिया।

अचानक हुए इस पथराव में बारात में शामिल लोगों को बचने का मौका भी नहीं मिला और कई लोग पत्थर लगने से घायल हो गए। बारात में शामिल धर्मेंद्र नामक व्यक्ति के सिर में एक बड़ा सा पत्थर लगा और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वहीं कई घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हैरानी की बात ये है कि पथराव की यह घटना जहां पर हुई उसके नजदीक ही पुलिस स्टेशन है। ऐसे में पथराव होने पर बारात के कुछ लोग मदद के लिए पुलिस थाने पहुंच गए। दलित समुदाय के लोगों का आरोप है कि लोगों की भीड़ ने पुलिस थाने के अंदर भी उन्हें पीटा। इसके बाद भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने बल प्रयोग भी किया।

लोगों के अनुसार, घटना में मारा गया शख्स धर्मेंद्र शिंदे बीच-बचाव की कोशिश कर रहा था और भीड़ को शांत करने में जुटा था। धर्मेंद्र शिंदे की मौत के अलावा इस घटना में 2 लोग गंभीर रुप से घायल हुए हैं, वहीं कुछ लोग मामूली रुप से चोटिल हुए हैं। गंभीर रुप से घायल लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं घटना को देखते हुए मौके पर भारी संख्या में पुलिसबल तैनात कर दिया गया है। कई वरिष्ठ अधिकारी मौके पर कैंप कर रहे हैं और इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। प्रशासन फिलहाल स्थानीय लोगों से बात कर स्थिति को शांत करने में जुटा है।