मध्य प्रदेश में दलितो और बच्चो पर अत्याचार रुकने का नाम नही ले रहे है। अभी सतना के जुड़वा भाइयो के दिनदहाड़े अपहरण और हत्या का मामला सुर्खियों में ही था कि बुधवार को मध्य प्रदेश के सागर में एक 12 वर्षीय दलित नाबालिग लड़की का अपहरण करने के बाद मार दिया गया।

घटना मध्य प्रदेश के सागर जिले के एक गांव की है जहां बुधवार सुबह लड़की अपनी वार्षिक परीक्षा देने अपने स्कूल गई थी जो कक्षा 6 की छात्रा थी। लड़की जब शाम को परीक्षा देकर अपने घर नहीं लौटी तो परिवार के लोगों को चिंता हुई और उन्होंने तुंरत ही उसकी तलाश शुरु कर दी। काफी खोजबीन के बाद जब लड़की के बारे में पता नहीं चल सको तो परिवार ने गुरुवार सुबह बंडा थाना में लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

पुलिस शाम तक छात्रा को नहीं खोज पाई। गुरुवार देर रात भड़राना के चौकीदार ने सूचना दी कि एक किसान ने खेत में सिर कटी लाश देखी है। पुलिस मौके पर पहुंची तो बच्ची का सिर और धड़ करीब 20 मीटर के फासले से अलग-अलग पड़े थे। पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाया और मृतका के परिजनों से पूछताछ की।

रिपोर्ट के मुताबिक लड़की के परिवार का आरोप है कि उसी गांव मे रहने वाले छोटे पटेल हत्या के पीछे हो सकता है। परिवार ने पुलिस को बताया कि छोटे पटेल के साथ भूमि विवाद को लेकर झगड़ा हुआ था एसडीएम कोर्ट में भी यह मामला चल रहा है। परिवार का कहना है कि हो सकता है कि हत्या इसी वजह से की गई हो। बहरहाल घटना के बाद से छोटे पटेल लापता है।

Leave a Reply