आम आदमी पार्टी (आप) की मध्य प्रदेश इकाई के पदाधिकारियों ने सामूहिक इस्तीफा दे दिया है। भोपाल के गांधी भवन में रविवार को आयोजित एक बैठक में प्रदेश अध्यक्ष आलोक अग्रवाल सहित सभी करीब दो दर्जन पदाधिकारियों ने सामूहिक इस्तीफा दिया। अध्यक्ष आलोक अग्रवाल ने दिल्ली सरकार के मंत्री और आम आदमी पार्टी के मध्य प्रदेश प्रभारी गोपाल राय पर षड्यंत्र रचने का आरोप लगाया है।

आलोक अग्रवाल ने दिल्ली सरकार के मंत्री और आम आदमी पार्टी के मध्य प्रदेश प्रभारी गोपाल राय पर षड्यंत्र रचने का आरोप लगाया है। बैठक में पदाधिकारियों ने आरोप लगाया कि पार्टी के प्रदेश प्रभारी गोपाल राय पिछले सात महीने से सुनियोजित तरीके से मध्य प्रदेश संगठन को खत्म करने का प्रयास कर रहे हैं।

बताया जाता है कि इस्तीफों को लेकर आप पदाधिकारियों का कहना था कि गोपाल राय संगठन मंत्री पंकज सिंह के साथ मिलकर संगठन को नुकसान पहुंचा रहे थे। उनके कहने पर पंकज सिंह द्वारा आलोक अग्रवाल के खिलाफ काम किया जा रहा था। 17 दिसंबर 2018 को जब विधानसभा चुनाव के बाद पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक हुई तो कुछ कार्यकर्ताओं की मदद से बैठक स्थल के बाहर प्रदर्शन कराया गया।

इस्तीफा देने वालों में प्रदेश अध्यक्ष आलोक अग्रवाल, प्रदेश संगठन सचिव भोपाल ज़ोन प्रभारी अमित भटनागर, प्रदेश उपाध्यक्ष रानी अग्रवाल, संगठन सचिव–इंदौर ज़ोन प्रभारी युवराज सिंह, संगठन सचिव–बुंदेलखंड ज़ोन प्रभारी इन्द्र विक्रम सिंह, संगठन सचिव-उज्जैन ज़ोन प्रभारी इफ्तिखार अहमद खान, संगठन सचिव-ग्वालियर ज़ोन प्रभारी सोमिल शर्मा, प्रदेश सचिव जीतेन्द्र चौरसिया, प्रदेश कोषाध्यक्ष प्रकाश डीकोस्टा शामिल हैं। इसके अलावा प्रदेश के अधिकांश संगठन मंत्रियों ने भी इस्तीफा दे दिया है।