गाड़ी के कागजात दिखाने को कहा तो सपा विधायक नाहिद हसन एसडीएम से करने लगे गाली-गलौज

- Advertisement -

अपने को कानून से ऊपर से समझने वाले कैराना से सपा विधायक नाहिद हसन गाड़ी का कागज मांगने पर एसडीएम से उलझ गए और समर्थकों के साथ मिलकर बदतमीजी करने लगे। अपनी विधायकी का रोब सरकारी अधिकारियों को दिखाने लगे और यह जताने की प्रयास करने लगे कि विधायक होने का मतलब कानून और पुलिस से ऊपर होना हैं।

दरअसल, सोमवार शाम पुलिस कैराना में वाहनों की चेकिंग कर रही थी। तभी भूरा रोड पर खड़ी एक कार का संदिग्ध नंबर देख सीओ राजेश कुमार तिवारी ने चालक से कागजात मांगे थे। उसी गाड़ी में विधायक नाहिद हसन बैठे थे। सीओ ने विधायक से कागजात मांगे। लेकिन वो नहीं दिखा सके। तब तक एसडीएम भी पहुंच गए।

- Advertisement -

विधायक नाहिद हसन से गाड़ी के कागजात दिखाने की मांग पर सीओ व एसडीएम से उलझ पड़े। वीडियो में नाहिद हसन एसडीएम से अभद्रता करते साफ दिखाई दे रहे हैं। विधायक ने एसडीएम को डरपोक तक बता दिया और बदतमीजी भरे लहजे में उन्हें अपमानित किया। विधायक हसन के साथ उनके समर्थक भी डटे हुए थे। जब एसडीएम ने विधायक से कहा कि वह सरकारी व्यक्ति के साथ इस तरह बदतमीजी नहीं सकते तो विधायक ने अपने समर्थकों की तरह इशारा करते हुए कहा कि ये लोग लिख कर देंगे कि आपने बदतमीजी की है।

एसडीएम ने कहा कि पूरे मामले की वीडियोग्राफ़ी हुई है और उसे देख कर उचित कार्रवाई की जाएगी। इसके बाद सपा विधायक ने अधिकारी का मखौल बनाते हुए कहा, “डर गया! बोलो? डरपोक।” इस हाईवोल्टेज ड्रामे के दौरान पानीपत खटीमा मार्ग पर काफी देर तक का जाम लगा रहा मौके से विधायक और एसडीएम के जाने के बाद जाम खुला और यातायात को सुचारू रूप से चलता किया। वहीं, विधायक का कहना है कि, वह खेत पर किसी काम से आए थे, इसलिए कागजात लाना उचित नहीं समझा।

इस घटना के बाद रात को भी विधायक के आवास के बाहर भारी संख्या में समर्थक जमा हो गए और उन्होंने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। समर्थकों ने कहा कि पूरा पुलिस-प्रशासन हाथ धो कर विधायक हसन के पीछे पड़ा हुआ है।

वहीं, एसपी अजय कुमार ने कहा कि, गाड़ी का नंबर संदिग्ध होने की वजह से ही सीओ ने कागजात मांगे थे, पुलिस को ये अधिकार हैं, यह एक सामान्य प्रक्रिया है, लेकिन गाड़ी के कागज नहीं दिखाए गए। विधायक को कहा गया है कि वह मंगलवार (सितम्बर 10, 2019) को कागज़ दिखाएँ।

विवादों में रहे हैं विधायक

विधायक नाहिद हसन पर एक लेखपाल के अपहरण, उससे जबरन काम कराने व सरकारी कार्य में बाधा डालने के मामले में मुकदमा दर्ज हुआ था तो वहीं कुछ दिनों पहले भाजपा समर्थक व्यापारियों से सामान न लेने का वीडियो वायरल हुआ था। जिसमें कैराना नाहिद हसन विधायक मुस्लिमों से साफ तौर पर भाजपा समर्थक लोगों से सामान की खरीद फरोख्त न करने की हिदायत दे रहे थे।

- Advertisement -
Awantika Singhhttp://epostmortem.org
Social media enthusiast , blogger, avid reader, nationalist , Right wing. Loves to write on topics of social and national interest.
error: Content is protected !!