प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अक्सर अपने भाषणों में स्किल इंडिया की बात करते हैं, उनका सपना हैं कि स्किल डेवलपमेंट के लिए यूनिवर्सिटी खोली जाए जहाँ बच्चो को रोजगारपरक शिक्षा देकर उन्हें ट्रेंड किया जा सके। उनके इस स्किल इंडिया सपने को पूरा करने के लिए राजस्थान सरकार ने अपना पहला कदम बढ़ा दिया है। देश की पहली स्किल यूनिवर्सिटी वसुंधरा राजे सरकार ने जयपुर के जामडोली में शुरू की है, इस यूनिवर्सिटी का नाम ‘इन्स्टिट्यूट ऑफ लीडरशिप डेवलपमेंट’ स्किल यूनिवर्सिटी रखा गया है। यूनिवर्सिटी में एडमिशन की प्रक्रिया की शुरुआत भी हो गई है। स्किल कोर्सेस में दिलचस्पी रखने वाले स्टूडेंट्स राज्य सरकार की ओर से चयनित कॉलेज और इंस्ट्यूट में आवेदन कर सकते है।

यूनिवर्सिटी में दाखिले की प्रक्रिया की शुरुआत हो चुकी है, दाखिले की प्रक्रिया 31 जूलाई तक चलेगी। वहीं 1 अगस्त से यूनिवर्सिटी में क्लासेज भी शुरू कर दी जाएंगी। बता दें कि कोर्स का सिलेबस राज्य सरकार की ओर से तय किया गया है। राज्य सरकार द्वारा पहले चरण में दस कॉलेज और इंस्टट्यूट को चयनित किया है। जो ‘इन्स्टिट्यूट ऑफ लीडरशिप डेवलपमेंट’ स्किल यूनिवर्सिटी से सम्बद्ध होगी। स्टूडेंट्स इन्हीं कॉलेज और इंस्टट्यूट से कोर्स करेंगे।

श्रम एवं रोजगार मंत्री जसवंत सिंह यादव राजस्थान सरकार के इस कदम की खूब सराहना की जसवंत सिंह यादव ने कहा, “राजस्थान सरकार लगातार स्किल इंडिया के सपनों को लेकर आगे बढ रही है, देश की पहली स्किल यूनिवर्सिटी का सपना वसुंधरा राजे सरकार ने पूरा कर दिखाया।” देश की पहली स्किल यूनिवर्सिटी के पहले वाइस चांसलर रिटायर्ड IAS ऑफिसर ललित के पंवार बनाया गया है। यूनिविर्सटी के पहले बैच में करीब 30 से ज्यादा कोर्सेज और डिप्लोमा हैं।

यूनिवर्सिटी में फैशन डिजाइनिंग, इंटिरीयर डिजाइनिंग, ज्वैलरी डिजाइनिंग, प्रोजक्ट डिजाइनिंग, जैम ज्वैलरी, हॉस्पिटैलिटी, टूरिज्म एंड एविएशन, होटल मैनेजमेंट एंड टूरिज्म, कम्यूटर एप्लीकेशन, एयर होस्टेस, मास कम्युनिकेशन जैसे प्रमुख कोर्सेज है जो पहले बैच के साथ शुरू किए जाएंगे। एक बैच में अधिकतम 30 स्टूडेंट्स होंगे। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने बजट में यूनिवर्सिटी बनाने की घोषणा की थी, जिसे अब पूरी तरह से अमलीजामा पहनाया गया है। बता दें कि राजस्थान के बाद अब हरियाणा सरकार और छत्तीसगढ़ सरकार ने भी स्किल यूनिविर्सिटी की शुरूआत कर ली है।