कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार की बेटी से ED की पूछताछ, जानिए 22 साल की ऐश्वर्या कैसे बनी करोड़पति?

- Advertisement -

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और कर्नाटक के पूर्व मंत्री डी के शिवकुमार की मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही है। आज (गुरूवार) परिवर्तन निदेशालय उन्हें पूछताछ के लिए अपने कार्यालय लाया है। ईडी इस मामले में उनकी बेटी एश्वर्या से भी पूछताछ करेगी। फिलहाल, दोनों इडी कार्यालय पहुंच गए हैं।

बता दें कि शिवकुमार ने अपनी 22 वर्षीय बेटी ऐश्वर्या के नाम से करोड़ों की संपत्तियों में निवेश किया है। 2018 के अपने चुनावी शपथपत्र में भी उन्होंने अपने नाम 618 करोड़ की संपत्ति और बेटी ऐश्वर्या के नाम 108 करोड़ की संपत्ति दर्ज होने की घोषणा की थी। हालांकि 2013 के शपथपत्र में उन्होंने बेटी के नाम सिर्फ 1.1 करोड़ की संपत्ति दिखाई थी।

- Advertisement -

इस पर सवाल उठने पर शिवकुमार ने सफाई दी थी कि मेरी बेटी मुझ पर निर्भर नहीं है, मैं बस जनप्रतिनिधि कानून के अतंर्गत उसकी भी संपत्ति जार्वजनिक कर रहा हूं। मैनेजमेंट ग्रैजुएट ऐश्वर्या अपने पिता द्वारा स्थापित ग्लोबल अकैडमी ऑफ टेक्नॉलजी में ट्रस्टी हैं।

सियासत में किसी रसूखदार राजनेता के बेटे-बेटियों के लिए बिना किसी व्यापारिक अनुभव के करोड़ों का  मालिक बन जाना आम बात है। आश्चर्य की बात ये है कि इनके नाम पर कई कंपनियां भी चल निकलती हैं जिनका कि कारोबार अत्यंत कम समय में ही करोड़ों-अरबों तक पहुंच जाता है। यही कुछ हुआ डीके शिवकुमार की बेटी के साथ, उन्होंने बड़ी चतुराई से अपनी आर्थिक हेराफेरी में कथित रूप से अपनी बेटी को भागीदार बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। अब यही करोड़ों की दौलत उनके और उनकी बेटी दोनो के लिए मुसीबत बन गयी है।

सिर्फ 6 साल में कमाए 600 करोड़ रुपये

2019 के लोकसभा चुनाव में दाखिल हलफनामे में जहां शिवकुमार ने अपनी और अपने परिवार की कुल संपत्ति 840 करोड़ बताई थी। इसके पहले 2013 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने कुल 251 करोड़ की संपत्ति की घोषणा की थी, यानी सिर्फ 6 साल में उन्होंने 600 करोड़ रुपये से अधिक की कमाई कर डाली। यही एक वजह है जिसके लिए ईडी ने उन पर शिकंजा कसा है।

नोटबन्दी में मिले थे 8 करोड़ रुपये

शिवकुमार 2016 में नोटबंदी के बाद से आयकर विभाग और ईडी के रेडार पर हैं। उनके नई दिल्ली स्थित फ्लैट पर दो अगस्त 2017 को आयकर विभाग की तलाशी के दौरान 8.59 करोड़ रुपये की बेहिसाब नकदी जब्त की गई थी। बता दें, 2017 में आयकर विभाग ने शिवकुमार के 64 ठिकानों पर जबरदस्त छापेमारी की थी। इसका अर्थ है कि शिवकुमार पर कहीं न कहीं अवैध संपत्ति को लेकर जो कार्रवाई हो रही थी वह बेवजह नहीं थी।

शिवकुमार के इस कथित भ्रष्टाचार में उनकी बेटी का हाथ है या नहीं यह तो खुलासा हो ही जाएगा लेकिन ईडी की जांच में सामने आया कि ऐश्वर्या को कैफे कॉफी डे से 20 करोड़ का लोन मिला था। बताया जा रहा है कि ईडी के अधिकारी ऐश्वर्या से इसके बारे में भी पूछताछ करेंगे। शिवकुमार ने जुलाई 2017 में बिजनस डील के लिए अपनी बेटी के साथ सिंगापुर की यात्रा की थी। इसकी भी पड़ताल ईडी कर रही है। बहरहाल शिवकुमार की मुसीबतें और बढ़ने वाली हैं क्योंकि फिलहाल जाे तथ्य निकलकर सामने आ रहे हैं  उनसे यही जाहिर होता है कि उनके हाथ कथित तौर पर भ्रष्टाचार से रंगे हैं।

- Advertisement -
Awantika Singhhttp://epostmortem.org
Social media enthusiast , blogger, avid reader, nationalist , Right wing. Loves to write on topics of social and national interest.
error: Content is protected !!