कोयंबटूर पुलिस ने बुधवार (जुलाई 10, 2019) को एक मुस्लिम लड़की और उसके बॉयफ्रेंड पर हमला करने के आरोप में दो लोगों- एम शफियुल्लाह और एस मोहम्मद इब्राहिम को गिरफ्तार किया है। खबर के मुताबिक, इन दोनों ने 2 जुलाई को लड़की और उसके दोस्त पर हमला किया था। कारुम्बुकदाई की रहने वाली मुस्लिम लड़की ने 9 जुलाई को इन दोनों लड़कों की शिकायत दर्ज करवाई थी।

खबर के अनुसार, ग्रेजुएशन कर चुकी यह मुस्लिम लड़की  अपना ट्रांसफर सर्टिफिकेट लेने कॉलेज गयी हुई थी, वहाँ वह अपने बॉयफ्रेंड और अपने दोस्त ढिलीफन से मिली। सर्टिफिकेट लेकर जब वह कोयम्बटूर लौटने लगी तो उसके बॉयफ्रेंड ने उसे अपनी मोटरसाइकिल पर घर तक छोड़ने के लिए कहा। इसके बाद योगनाथ, वो मुस्लिम लड़की जो बुरका पहने हुए थी और उनके दोस्त एक साथ वहाँ से निकले।

रास्ते मे तीन मुस्लिम युवकों ने जब बुर्का पहनी लड़की को दो लड़कों के साथ बाइक पर जाते हुए देखा तो वह उनका पीछा करने लगे और रास्ते में उन्हें रोक लिया। उन्होंने लड़की से पूछा ‘क्या तुम मुसलमान हो?’ लड़कीं ने जब हाँ कहा तो वह उन लड़कों के बारे में पूछने लगे की, क्या ये लड़के मुसलमान है। लड़कीं ने जब जवाब नही में दिया तो वह गुस्से में आकर उन्हें पीटने लगे।

इसके बाद वो लड़की को उसके घर ले गए और साथ ही लड़कों को भी घसीट कर वहाँ ले गए। वहाँ पर दो और लोग आ गए और उन्होंने बेल्ट से योगनाथ और उसके दोस्त की बेरहमी से पिटाई की। उन लड़कों ने योगनाथ का फोन छीन लिया और चाकू से उन पर वार किया। फिर रात के 9 बजे के आस-पास ही उन्हें वहाँ से जाने दिया गया।

9 जुलाई को दायर की गई शिकायत में, लड़की ने कहा कि हमलावर उससे पूछते रहे कि क्या वह इस हिन्दू लड़के से प्यार करती है? इस सवाल के बाद हमलावरों ने उसके साथ मारपीट की अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हुए अपशब्द भी कहे। लड़की का कहना है कि इस घटना से वो काफी डर गई थी, जिसकी वजह से वो पुलिस स्टेशन जाने की हिम्मत नहीं जुटा सकी।

लड़की की शिकायत मिलने के बाद, पुलिस ने कार्रवाई करते हुए भारतीय दंड संहिता की धारा 341, 342, 294 (B), 323, 324, 506 (ii) और तमिलनाडु महिला उत्पीड़न अधिनियम, 2002 की धारा 4 के तहत कुनिमुथुर में कुरुमची नगर में  44 वर्षीय एम शफियुल्लाह और एस मोहम्मद इब्राहिम के खिलाफ पुलिस ने मामले दर्ज किए और आरोपियों को बुधवार को कोयंबटूर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।