लोकसभा चुनाव के परिणाम में एक तरफ कांग्रेस पार्टी को जहाँ शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा है तो दूसरी तरफ पंजाब कांग्रेस में घमासान मच गया है। दरअसल लोकसभा चुनाव के परिणाम आते ही पंजाब के मुख्यमंत्री कप्तान अमरिंदर सिंह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये सिद्धू को जमकर खरी खोटी सुनाई। उन्होंने कहा कि “एक तरफ हमारे जवानो को पाकिस्तान मार रहा है ऐसे में आप पाकिस्तान जाते हो और वहाँ के जनरल बाजवा को गले लगते हो, ये कतई स्वीकार्य नहीं है” CM ने ये भी कहा कि उन्होंने उसी समय पार्टी हाई कमान को चेताया था कि ये सही नहीं है और हमें सीट का नुकसान झेलना पड़ सकता है।

कैप्टन अमरिंदर ने चुनावी नतीजों में मिली हार के लिए सिद्धू को जिम्मेदार ठहराते हुए केंद्रीय नेतृत्व से कहा है कि सिद्धू के कारण पार्टी को काफी नुकसान उठाना पड़ा है, अब समय आ गया है कि पार्टी को उनमें और नवजोत सिंह सिद्धू में से किसी एक को चुनना होगा। या तो पार्टी सिद्धू को बाहर का रास्ता दिखा दें या पंजाब से हटाकर दिल्ली में कोई जिम्मेदारी दे दे।

Amrindar

पंजाब में कांग्रेस विधानसभा चुनाव कप्तान अमरिंदर सिंह ने नेतृत्व में जीत गयी थी और वर्तमान लोकसभा चुनाव में 12 में से 8 सीट पर जीत हासिल करने में कामयाब रही है तो इसका श्रेय कैप्टन अमरिंदर सिंह की साफ छवि और कुशल नेतृत्व को जाता है। ऐसे में कांग्रेस अगर अपना फैसला CM अमरिंदर सिंह के कथन से सहमत होकर उनके पक्ष में लेती है तो इसमें कोई आश्चर्य नहीं होगा।

दूसरी और सोशल मीडिया में भी सिद्धू की जमकर किरकिरी हो रही है। दरअसल सिद्दू ने चुनाव प्रचार के दौरान ये कहा था अगर राहुल गाँधी अमेठी से चुनाव हार जाते हैं तो वो राजनीती से सन्यास ले लेंगे। सोशल मिडिया पर लोगो ने सवाल खड़े करते हुए पुछा वो राजनीती से कब सन्यास ले रहे हैं।

Leave a Reply