बेंगलुरु: NIA ने आतंकी हमला किया नाकाम, बम बनाने वाली यूनिट का पर्दाफाश, 3 बांग्लादेशी गिरफ्तार

- Advertisement -

राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) ने कर्नाटक में एक बम बनाने वाले दस्ते का भंडाफोड़ किया है। कर्नाटक के बेंगलुरु में बम बनाने वाले इस मॉड्यूल का पता उस आतंकी ने दिया जिसे बर्दवान से पकड़ा गया था। हबीबुर्रहमान जून से ही NIA की कस्टडी में है और गहन पूछताछ के बाद उसने खुलासा किया कि बेंगलुरु में बम बनाने वाले मॉड्यूल छुपे हुए हैं।

खबरों के मुताबिक, एनआईए ने बेंगलुरु इलाके से आईईडी, रॉकेट बनाने बनाने वाली सामग्री के अलावा 5 स्वनिर्मित हैड ग्रेनेड, एक टाइमर डिवाइस, 3 इलेक्ट्रिक सर्किट, संदिग्ध विस्फोटक पदार्थ के अलावा और भी कई घातक सामग्री बरामद की है। इसके साथ ही बम बनाने वाले 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। यह तीनों बांग्लादेश के रहने वाले है। एनआईए ने एक बयान में कहा कि बेंगलुरू में जब्त किए गए हथगोले का निर्माण राज्य में आतंकी गतिविधियों में इस्तेमाल करने के लिए किया गया था।

- Advertisement -

एनआईए को यह बड़ी कामयाबी उस दौरान मिली जब वर्धमान धमाकों के आरोपी हबीबुर रहमान ने पूछताछ के दौरान इस बम बनाने वाली यूनिट के बारे में बताया। इस दौरान जांच एजेंसी को एक तैयार आईईडी भी मिला जो कुछ समय पहले ही तैयार किया गया था। जांच एजेंसी को शक है कि इसका निर्माण बेंगलुरु के भीड़भाड़ वाले इलाके के लिए किया गया था।  गौरतलब है कि इसी साल के शुरुआत में राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने बंगाल से मा़ड्यूल के मुख्य संचालक को गिरफ्तार किया था।

बता दें कि एनआईए ने 28 साल के हबीबुर रहमान शेख को गिरफ्तार किया था। जो कि साल 2014 में बर्दवान विस्फोट मामले में आरोपी था। एनआईए टीम ने उसे बेंगलुरु ग्रामीण जिले के डोडाबल्लापुरा से गिरफ्तार किया था। इससे पहले भी हबीबुर रहमान के खुलासे के बाद एनआईए ने बेंगलुरु में रामनगर रेलवे लाइन के पास नाले से दो इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) बरामद किया था।

गौरतलब है कि बर्दवान के खगरागढ़ इलाके में 2 अक्टूबर, 2014 को एक घर में बम विस्फोट हुआ था, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई थी। विस्फोट के बाद जब सुरक्षा एजेंसियों ने छापेमारी शुरू की तो पश्चिम बगाल, असम और झारखंड में एक ऐसे नेटवर्क का पता चला जो हथियार और विस्फोटक का नेटवर्क चलाता था इसमें बांग्लादेशी भी शामिल थे। हबीबुर रहमान जो कि जेएमबी संगठन (जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश) का एक सदस्य भी है उसको इसी साल 25 जून को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद एनआईए कोर्ट ने उसे पुलिस हिरासत में भेज दिया था। बर्दवान मामले में हबीबुर रहमान को फरार घोषित किया गया था।

- Advertisement -
Awantika Singhhttp://epostmortem.org
Social media enthusiast , blogger, avid reader, nationalist , Right wing. Loves to write on topics of social and national interest.
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: