उत्तरप्रदेश के बाराबंकी जिले की कोतवाली फतेहपुर क्षेत्र के ग्राम हसनपुर टांडा में एक मुस्लिम युवक ने शादी के महज 24 घंटे के अंदर ही अपनी पत्‍नी को तीन तलाक देकर संबंध खत्‍म कर लिया। पुलिस ने इस मामले में आरोपी ससुराल वालों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज किया है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक ग्राम हसनपुर टांडा निवासी कुतुबुद्दीन की पुत्री रुखसाना का निकाह जहांगीराबाद थाना क्षेत्र के ग्राम सद्दीपुर निवासी शाहे आलम के साथ 13 जुलाई को हुआ था। शादी के बाद बेटी की विदाई भी हो गई थी। लड़की की चौथी ले जाने की तैयारी हो रही थी, तभी ससुराल से फोन आया कि रुखसाना की तबीयत खराब है। लड़की के घरवाले जब उसके ससुराल पहुंचे तो रुखसाना उन लोगों को देखते ही रोने लगी और बताया कि दहेज में मोटरसाइकिल की मांग को लेकर पति और उसके घरवाले नाराज हैं।

लड़की के पिता कुतुबुद्दीन ने बताया कि उसने दामाद शाहे आलम और उसके परिजन को काफी समझाया मगर किसी ने एक न सुनी और मुझे जान से मारने की धमकी देने लगे। इस बीच, गुस्से में आकर शाहे आलम ने सबके सामने रुखसाना को तीन बार ‘‘तलाक, तलाक, तलाक’’ कहकर घर से निकल जाने को कह दिया।

शादी के महज 24 घंटे के अंदर ही तलाक हो जाने पर परिवार पर मानो बिजली गिर गई। तलाक के बाद लड़की का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं, घटना से आहत पिता ने थाने में लड़के के खिलाफ तहरीर दे दी।

फतेहपुर पुलिस क्षेत्राधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने बताया कि दहेज की मांग को लेकर तलाक के मामले में लड़की के ससुराल वालों के खिलाफ दहेज उत्‍पीड़न का मुकदमा दर्ज कर दिया गया है। मामले की जांच कर जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

इनपुट : Press Trust of India (भाषा)