बालाकोट एयरस्ट्राइक में भारत के दावे के मुताबिक 200 आतंकियों के मारे जाने का आंकड़ा सही साबित होता दिख रहा है। अमेरिका में रहने वाले पाकिस्तान के एक एक्टिविस्ट ने एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में पाकिस्तानी आर्मी का एक अफसर ये कबूल कर रहा है कि भारत के हमले में 200 आतंकी मारे गए। ये आर्मी अफसर उन आतंकियों के परिवारों के बीच गया था जो एयर स्ट्राइक में मारे गए थे।

अमेरिका में रह रहे गिलगिट ऐक्टिविस्ट सेंगे हसनान सेरिंग ने एक विडियो शेयर करते हुए दावा किया है कि स्थानीय उर्दू अखबारों में छपी खबर के अनुसार, स्ट्राइक के बाद 200 आतंकियों के शव को पाक सेना ने बालाकोट से खैबर पख्तूनख्वा पहुंचाने का काम किया था। हालांकि इस विडियो की हकीकत क्या है, इसकी अभी तक पुष्टि नहीं हो पाई है।

ट्विटर पर शेयर किए वीडियो के बारे में उन्होंने लिखा, ‘भारत के एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तानी सैन्य अधिकारियों ने 200 से अधिक आतंकियों को दफनाने की बात कबूल की है। आतंकी मुजाहिद को अल्लाह से मिले विशेष सौगात की बात करते हुए कहा कि ये लोग पाकिस्तान सरकार के लिए दुश्मन के खिलाफ काम कर रहे थे। उनके परिवारों को सहयोग देने की बात की।’

क्या है वीडियो में?

वीडियो में कुछ पाक अधिकारी लोगों से बात कर रहे हैं। इस दौरान वे रोते हुए बच्चों को चुप कराते भी देखे जा रहे हैं। इसी दौरान पीछे से किसी की आवाज आ रही है, जिसमें एक शख्स कह रहा है कि यह अल्लाह का करम है। हमारे 200 बंदों को यह मौका मिला। हालांकि, इस विडियो की हम अपनी तरफ से पुष्टि नहीं कर सकते हैं।

बता दें कि बालाकोट में आतंकी कैंपों के तबाह होने की खबरों का पाकिस्तान लगातार खंडन करता रहा है। पाकिस्तान का ने तो यहां तक दावा किया कि वहां न तो आतंकी कैंप हैं और न ही कोई मारा गया। दूसरी तरफ भारत ने इस एयर स्ट्राइक में 200 से अधिक आतंकियों के मारे जाने और आतंकी कैंप के बुरी तरह से तबाह होने का दावा किया है। वीडियो को सही मानें तो भारत का दावा सही साबित होता है।

Leave a Reply