Lok Sabha Election 2019: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर से कांग्रेस से गठबंधन करने की राहुल गांधी के सामने गिड़गिड़ा रहे है। उधर कांग्रेस गठबंधन के लिए बार-बार इनकार कर रही है लेकिन इसके बावजूद बावजूद अरविंद केजरीवाल कांग्रेस से गठबंधन को आतुर हैं।

आज उन्होंने कहा, ”देश के लोग अमित शाह और मोदी जी की जोड़ी को हराना चाहते हैं। अगर हरियाणा में JJP, AAP और कांग्रेस साथ लड़ते हैं तो हरियाणा की दसों सीटों पर बीजेपी हारेगी। राहुल गांधी जी इस पर विचार करें।” जेजेपी यानि जननायक जनता पार्टी दुष्यंत चौटाला की पार्टी है। 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने सात, कांग्रेस ने एक और आईएनएलडी ने दो सीटों पर जीत दर्ज की थी। आईएनएलडी से अलग होकर ही JJP बनी है।

आपको बता दे, केजरीवाल के गिड़गिड़ाने के बावजूद भी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गठबंधन से इनकार कर दिया था। उन्होंने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित से सलाह लेने के बाद दिल्ली की सभी सात सीटों पर उम्मीदवार उतारने का फैसला लिया। जिसके बाद अरविंद केजरीवाल उन पर भड़क कर हमले करने लग गए थे। उनकी इस हरकत पर सोशल मीडिया में लोगो ने उनकी तुलना भिखारी से करते हुए कहा था कि ‘जैसे भिखारी को भीख नही मिलने पर वह कोसने लगता है, वैसे ही केजरीवाल कांग्रेस को कोस रहे हैं।’

गौरतलब है दिल्ली की सभी सात सीटों पर बीजेपी का कब्जा है। हालिया सर्वे में दावा किया गया है कि इसबार के चुनाव में भी आम आदमी पार्टी और कांग्रेस की हाथ खाली रहेगी। यही वजह है कि केजरीवाल जीत के लिए कांग्रेस से गठबंधन करने के लिए आतुर हैं।

ध्यान रहे कि अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस के खिलाफ आंदोलन कर राजनीतिक करियर की शुरुआत की थी और आज वह कांग्रेस के साथ पाने के लिए बेकरार हो उठे हैं, एक सभा मे उन्होने यहाँ तक कह दिया कि  ”कांग्रेस-आम आदमी पार्टी (आप) में गठबंधन हो जाए तो BJP सातों सीटें हार जाएगी, जमानत जब्त हो जाएगी, लेकिन कांग्रेस को मना-मना कर थक गए। मुझे नहीं समझ आता कि उनके मन में क्या है?” लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केजरीवाल को जरा भी भाव नही दे रहे हैं।

Leave a Reply