Army chief Bipin Rawat : जनरल बिपिन रावत ने एक बड़ा बयान देते हुए कहा कि पाकिस्तान में मौजूद बचे हुए आतंकवादी ठिकानों को नष्ट करने के लिए भारतीय सेना (Indian Army) ने पूरी तैयारी कर ली है और इस ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए सेना किसी भी वक्त कारवाई कर सकती है। जनरल रावत आसियान और आसियान प्लस देशों के फील्ड मेडिकल एक्सरसाइज मेडेक्स-2019 के समापन समारोह में भाग लेने आए थे।

जनरल रॉवत के अनुसार इस काम के लिए नई दिल्ली से भारतीय सेना को खुली छूट है। सुरक्षा एजेंसियों से हमारा पूरा तालमेल है।  सेना सिर्फ एक आवाज पर कार्रवाई करने के लिए तैयार है और अब कभी ऐसी स्थिति पैदा नहीं होगी जब सेना 26/11 जैसे बड़े आतंकवादी हमले का मुकाबला ना कर सके।

मीडिया के साथ बातचीत में जनरल रॉवत ने आगे कहा कि चीन बेशक संयुक्त राष्ट्र संघ में बार बार मसूद अज़हर पर लाए गए प्रस्ताव को गिरा रहा है पर अब भारत को इस बात से बहुत अधिक फर्क नहीं पड़ना चाहिए। मसूद अज़हर भारतीय सेना के लिए मोस्ट वांटेड आतंकी है, एक भारतीय होने के नाते प्रस्ताव का गिरने पर उन्हें बुरा तो लगता है पर एक आर्मी चीफ़ होने के नाते उन्हें और सेना को कुछ फर्क नही पड़ता। मसूद भी उनके लिए बाक़ी आतंकवादियों की तरह है जो अब बहुत देर सेना के हाथों ज़िन्दा नहीं बचेगा।

इस मौके पर उन्होंने म्यांमार बॉर्डर पर म्यांमार की सेना के साथ मिलकर की गई सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी भी साझा की। उन्होंने कहा भारत और म्यांमार की सेनाएं मिलकर आतंक का सफाया करेंगी। यह नियमित चलने वाली प्रक्रिया है। उन्होंने कहा कि दोनो ही देशों की जमीन का इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों के लिए नहीं होगा, इसके लिए हम वचनबद्ध है।

Leave a Reply