सामाजिक मुद्दों पर बेबाक राय रखने वाली फिल्म अभिनेत्री कंगना राणावत (Kangana Ranaut) ने खुद को लिबरल और “फ्रीडम ऑफ स्पीच” के कर्णधार कहने वालों मीडिया के कुछ नुमाइंदों को जो लताड़ मारा है वो देखने लायक है, बड़े ही स्पष्ट शब्दों में आज देश के वामपंथी मीडिया के दलालों को जूते की मार पड़ी है।

बात ये है की पिछले दिनों एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कंगना रानौत ने एक विदेशी मीडिया संस्थान के भारतीय पत्रकार से सवाल लेने से इंकार कर दिया था, इसके बाद वामपंथी मीडिया वालो ने एक गैंग बनाया और घोषणा कर दी की, हम कंगना रानौत का बहिष्कार करेंगे, उसकी कवरेज नहीं करेंगे, कंगना रानौत को बैन कर देंगे। इन लिबरल-पत्रकारों ने तभी से कंगना के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है जबसे कंगना की फ़िल्म मणिकर्णिका बननी शुरू हुई थी।

इस मामले पर आज कंगना राणावत ने सोशल मीडिया पर अपना बयान दिया, इस वीडियो को कंगना की बहन रंगोली चंदेल ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से शेयर किया है। रंगोली ने ट्विटर और इंस्टाग्राम में कंगना की इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, ‘कंगना ने मीडिया को मेसेज किया!!!! यहां कंगना वीडियो में कुछ कह रही है जो कि उस मीडिया के लिए है जिसने कंगना को बैन किया है।’

देखिये विडियो और ध्यानपूर्वक सुनिए किस प्रकार कंगना राणावत ने खुद को सेक्युलर और लिबरल कहने वाले कथित पत्रकारों को भींगा भींगा के जूता मारा।

कंगना राणावत ने कहा की – जिस शख्स से मैंने सवाल लेने से इंकार कर दिया था, उस शख्स ने कई शर्मनाक कारनामे किये थे। कंगना राणावत ने बताया की उस शख्स ने प्लास्टिक के खिलाफ मेरे चलाये गए अभियान का मजाक उड़ाया था, फिर उसने जानवरों के खिलाफ हो रही बर्बरता के खिलाफ जो मैंने कैंपेन चलाया था, उसका मजाक उड़ाया था और देशद्रोह की हरकतें की थी इसी वजह से उस से सवाल लेने से इंकार कर दिया था।

कंगना रानौत ने बताया की खुद को सेक्युलर और लिबरल कहने वाले इन दोगलो को पत्रकार कहना भी ठीक नहीं है, ये दोगले को कार्यक्रमों में मुफ्त का खाना खाने पहुँच जाते है, इन लोगो को खरीदने के लिए लाखों रुपए नहीं चाहिए बल्कि ये तो 50-60 रुपए में बिकते है।

कंगना ने आगे कहा- ‘आप अपने आप को जर्नलिस्ट कहते हैं, ऐसा क्या काम किया है आपने? दिखाओ अपना लिखा हुआ? जैसे मैं खुद को कलाकार कहती हूं, तुम्हारे पास भी होना चाहिए कुछ क्रिएटिव। मैंने उस इंसान के सवालों का जवाब देने से माना कर दिया था ऐसे में इन तीन चार पत्रकारों ने मिलकर ऐसा किया। मेरे पास किसी भी देशद्रोही के लिए जीरो पर्सेंट टॉलरेंस है। मेरे खिलाफ इन तीन चार लोगो ने एक गिल्ड बना दी जिसकी कोई मान्यता नहीं है। उन्होने अब मुझे धमकी देना शुरू कर दिया है कि वह मुझे बैन कर देंगे और मेरा करियर बर्बाद कर देंगे।’

कंगना रणावत ने ये भी कहा की – मुझे बैन करने वालो की चल रही होती तो आज मैं देश की सबसे अधिक फीस लेने वाली एक्ट्रेस नहीं होती। साथ ही कंगना ने देश की जनता को भी धन्यवाद दिया जो उनके साथ खड़े है।

दूरदर्शन के वरिष्ठ पत्रकार अशोक श्रीवास्तव ने भी कंगना के समर्थन करते हुए कहा कि, “कंगना जी, मैं भी पत्रकार हूँ और सहमत हूँ कि मीडिया का एक वर्ग दीमक की तरह देश और समाज का खून चूस रहा है। इन बिकाऊ, दलाल, शराब की बोतल पर बिकने वाले पत्रकारों ने आपके खिलाफ मोर्चा खोला क्योंकि आप महिला हैं ,शाहरुख या सलमान खान इन्हें जूते से मारें तब भी इनकी ज़ुबान नहीं खुलेगी।”

 

Leave a Reply